दुनिया

सुलह के मक़सद से तुर्की के राष्ट्रपति ने यूक्रेन में जेलेंस्की से मुलाक़ात की : विश्व गुरु झांसाराम अपनों को नष्ट करने में व्यस्त : विशेष रिपोर्ट

यूक्रेन में 24 फरवरी से जारी युद्ध के बीच अनाज की आपूर्ति को बढ़ाने और यूरोप के सबसे बड़े परमाणु संयंत्र की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र के महासचिव और तुर्की के राष्ट्रपति ने गुरूवार को यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की से मुलाकात की।

युद्ध के मोर्चे से दूर, पोलैंड की सीमा के नजदीक यूक्रेन के पश्चिमी शहर में यह बैठक हुई। युद्ध की शुरुआत के बाद से तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोआन का पहला और संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस का यह यूक्रेन का दूसरा दौरा है।

यूक्रेन के राष्ट्रपति की वेबसाइट के मुताबिक बैठक में तुर्किये, सड़कों और पुलों सहित यूक्रेन के बुनियादी ढांचे के पुनर्निर्माण में मदद करने के लिए सहमत हो गया। जेलेंस्की ने गुटेरस से जबरन रूस भेजे गए यूक्रेन के नागरिकों तक संयुक्त राष्ट्र की पहुंच मुहैया कराने का अनुरोध किया। जेलेंस्की ने बंदी बनाए गए यूक्रेन के सैनिकों और चिकित्साकर्मियों को मुक्त कराने में संयुक्त राष्ट्र से मदद के लिए भी कहा।

 

इसी मध्य युद्ध के मैदान में, यूक्रेन के खारकीव क्षेत्र में बुधवार रात और बृहस्पतिवार सुबह के बीच रूस के मिसाइल हमले में कम से कम 11 लोग मारे गए और 40 लोग घायल हो गए। यूक्रेन के अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

जेलेंस्की, अर्दोग़ान और गुटेरस के मध्य होने वाली बैठक में दक्षिणी यूक्रेन में रूस नियंत्रित जापोरिज्जिया परमाणु संयंत्र को लेकर भी बातचीत हुई। रूस और यूक्रेन ने एक दूसरे पर परमाणु संयंत्र परिसर के आसपास गोलाबारी के आरोप लगाए हैं और संघर्ष से परमाणु आपदा का खतरा बढ़ गया है।

जेलेंस्की ने बुधवार को वीडियो संबोधन में रूसी सैनिकों से संयंत्र छोड़ने की मांग करते हुए कहा कि ‘‘केवल पूर्ण पारदर्शिता और स्थिति पर नियंत्रण’’ से ही संयुक्त राष्ट्र की अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आईएईए) परमाणु सुरक्षा की गारंटी दे सकती है।

इस महीने की शुरुआत में अर्दोग़ान ने युद्ध को लेकर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से बातचीत की थी। तुर्की और संयुक्त राष्ट्र की मध्यस्थता से काला सागर बंदरगाह के जरिए यूक्रेन से 2.2 करोड़ टन अनाज की आपूर्ति का मार्ग प्रशस्त हुआ।

Al Arabiya English
@AlArabiya_Eng
#Turkey’s President Recep Tayyip Erdogan warns of a #nuclear disaster in #Ukraine, and UN Chief Guterres says any damage to Zaporizhzhia nuclear plant would be “suicide.”

Recep Tayyip Erdoğan
@RTErdogan

Türkiye devlet görevlisi
Today, we arrived in Lviv for a one-day working visit at the invitation of President Zelensky of Ukraine.

We assessed all aspects of 🇹🇷🇺🇦 ties with Mr Zelensky and held a trilateral summit with the participation of UN Secretary-General António Guterres.

Recep Tayyip Erdoğan
@RTErdogan

Türkiye devlet görevlisi
We are deeply saddened by the casualties in the war, which has been raging for almost six months.

We reiterate our support for Ukraine’s territorial integrity and sovereignty.

Recep Tayyip Erdoğan
@RTErdogan

Türkiye devlet görevlisi
We have admitted a total of 1507 people, consisting of 1099 orphans and 408 care staff, until the conditions in Ukraine return to normal.

On the one hand, we seek to end the conflicts through diplomatic means, while on the other, we continue to stand by our Ukrainian friends

حسن سجواني 🇦🇪 Hassan Sajwani
@HSajwanization

So it seems that President Erdogan believe the that dialogue should be with President Zelensky to end this conflict, that’s why he and UN SG are in Ukraine, not Moscow. I sincerely hope this ends soon !

ANADOLU AGENCY
@anadoluagency
• President Erdogan: “We don’t want to experience a new Chernobyl”

• Guterres: “Any potential damage to Zaporizhzhia would be suicide”

• Zelenskyy: “Russia must immediately withdraw troops from Zaporizhzhia nuclear plant”

Türkiye, Ukraine, UN meet in Lviv to discuss war

Flash
@Flash43191300
⚡️A memorandum of understanding on the restoration of infrastructure, which provides for Türkiye’s participation in the post-war reconstruction of Ukraine, was signed in Lviv in the presence of Ukrainian President Volodymyr Zelenskyi and Turkish President Recep Tayyip Erdogan.