देश

BSF : त्रिपुरा के पानीसागर सेक्टर में बीएसएफ पेट्रोल टीम पर फायरिंग

बीएसएफ के मुताबिक, फायरिंग के दौरान एचसी गिरिजेश कुमार उड्डेय को गोलियां लगीं। उन्हें तत्काल अगरतला लाया गया। यहां उनकी मौत हो गई।

 

त्रिपुरा में भारत-बांग्लादेश सीमा पर शुक्रवार सुबह आतंकवादियों ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) पर घात लगाकर किए गए हमले में घायल एक जवान की मौत हो गई। मृतक बीएसएफ जवान की पहचान 53 वर्षीय गिरिजेश कुमार उड्डेय के रूप में हुई है। उदय बीएसएफ की 145वीं बटालियन में हवलदार थे।

सूत्रों के मुताबिक, इलाज के लिए अगरतला स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां पर उन्होंने अंतिम सांस ली। उसके शरीर के कई हिस्सों में चार गोलियां लगीं, जिससे उसकी मौत हो गई।

इस बीच जानकारी मिली है कि हमला एनएलएफटी के बिस्वा मोहन देबबर्मा समूह ने किया था। क्षेत्र में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक उत्तरी त्रिपुरा जिले के आनंदबाजार थाना क्षेत्र के शिमनापुर सीमा चौकी (बीओपी) में तैनात बीएसएफ के जवानों पर उग्रवादियों ने गोलीबारी की।

सूत्रों के मुताबिक शुक्रवार सुबह बीओपी-2 के बीएसएफ के जवान सीमा पर गश्त कर रहे थे, तभी अचानक आतंकियों ने बीएसएफ जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी। बीएसएफ कर्मियों ने जवाबी कार्रवाई की, जिसके परिणामस्वरूप आतंकवादी बांग्लादेश में अपने ठिकाने की ओर भाग गए।

उत्तर त्रिपुरा जिले के पुलिस अधीक्षक (एसपी) एक बड़ी पुलिस टीम के समर्थन में घटना स्थल पर पहुंचे। बीएसएफ के डीआईजी भी हेलीकॉप्टर से घटना स्थल पर पहुंचे। बीएसएफ ने इलाके में तलाशी अभियान शुरू कर दिया है।