उत्तर प्रदेश राज्य

UP Roadways : देखिए सरकार, यात्रियों की जान जोखिम में डालकर दौड़ाई जाए रही जर्जर बसें : राहुल अग्रवाल की रिपोर्ट

Rahul Agarwal

============
UP Roadways: देखिए सरकार, यात्रियों की जान
जोखिम में डालकर दौड़ाई जाए रही जर्जर बसें
आगरा । यात्रियों की जान जोखिम में डाल परिवहन निगम की बसें दौड़ लगा रही हैं। दर्जनों बसें तो जर्जर स्थिति में हैं, लेकिन जिम्मेदारों का इस ओर ध्यान नहीं है।

मुरैना, तांतपुर, भरतपुर, जयपुर सहित दूसरे रूट ऐसी बसें दौड़ रही हैं। यात्री इसमें बैठने पर भय जताते हैं, लेकिन संसाधनों के अभाव में यात्री जर्जर बसों में यात्रा करने को मजबूर हैं।

बस का टूट गया था पायदान
शनिवार को मैनपुरी से आगरा आ रही बस का पायदान और द्वार टूट गया था। बस के ब्रेक लगते ही यात्री नीचे गिर पड़े थे। दो यात्रियों के गंभीर चोट आई थीं, एक मामूली चोटिल हुए थे। घटना का वीडियो सामने आने के बाद विभाग में खलबली मची, लेकिन मामले का दबा दिया गया था। विभागीय अधिकारियों ने घायलों का सहयोग छोड़िए, मुलाकात करना तक उचित नहीं समझा।

हादसे से नहीं लिया सबक

हादसे के भी सबक नहीं लिया जा रहा है और जर्जर बसें दौड़ रही हैं। बुधवार को ईदगाह बस स्टेशन से दिल्ली जाने वाली बस की परिचाल की ओर की चार खिड़कियों जंग खा चुकी और बाड़ी का बड़ा हिस्सा टूटा हुआ नजर आ रहा था। अगर दबाव पड़ा तो ये हिस्सा भी अलग हो सकता है।
सीटें बदहाल, पायदान भी कई जगह से चटके

वहीं भरतपुर जा रही बस का पायदान कई जगह से चटका था, तो गेट भी टूटा हुआ था। सीटें भी बदहाल थीं, तो इंजन के सामने का कवर भी तार से बंधा हुआ था। ऐसा ही कई दूसरी बसों का हाल था, जिस पर यात्री जमकर नाराजगी जता रहे थे।

विभिन्न रूट पर रवाना करने से पहले बसों की डिपो में जांच होती है। कुछ बसें पुरानी जरूर हो गई हैं, लेकिन दुरुस्त हैं। – अशोक शर्मा, बस स्टेशन प्रभारी, ईदगाह

बसें अधिकतर जर्जर है, लेकिन सफर करना मजबूरी है। परिवहन निगम को यात्रियों की जान के साथ खिलवाड़ नहीं करना चाहिए। – दिलवार, यात्री

बसों के पायदान से लेकर खिड़की, सीटें सभी टूटी हुई होती हैं। बाडी में कई बार कपड़े फस खराब हो जाते हैं, लेकिन सुधार नहीं हो रहा है। – दिलीप कुमार, यात्रि

Leave a Reply

Your email address will not be published.