दुनिया

नीचता पर उतरे बाइडन : पूरी दुनियां को आतंकवाद और युद्धों में झोंकने वाले अमरीका ने रूस को फिर कोसा : रिपोर्ट

अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रूस पर यूक्रेन युद्ध शुरु करने का आरोप लगाया।

संयुक्त राष्ट्र संघ की महासभा को संबोधित करते हुए अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रूस पर आरोपों की झड़ी लगा दी। जो बाइडन ने कहा कि रूस ने यूक्रेन में क्रूर और अनावश्यक युद्ध छेड़कर संयुक्त राष्ट्र संघ के चार्टर की मूल भावना का उल्लंघन किया है।

अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि रूसी बलों ने यूक्रेन के स्कूलों, रेलवे स्टेशनों और अस्पतालों पर हमला किया है। संयुक्त राष्ट्र की महासभा में अपने संबोधन के दौरान बाइडन ने रूस के हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि यूक्रेन में आम नागरिकों के विरुद्ध किये गए रूस के अत्याचार की रूह कांपने वाली खबरें आ रही हैं।

उन्होंने कहा कि रूस के राष्ट्रपति विदलादीमीर पुतिन द्वारा यूरोप पर परमाणु हथियारों से हमले की नई धमकी से पता चलता है कि रूस परमाणु अप्रसार संधि “एनपीटी” पर हस्ताक्षर करने के बावजूद ग़ैर ज़िम्मेदाराना तरीक़े से उसके प्रावधानों की “धज्जियां उड़ा रहा है।

बाइडन ने कहा कि हम रूस के हमले के विरुद्ध एकजुट रहेंगे। उन्होंने कहा कि एक परमाणु युद्ध नहीं जीता जा सकता है और कभी नहीं लड़ा जाना चाहिए।

राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि हम परेशान करने वाले रुझान देख रहे हैं, रूस परमाणु हथियारों के इस्तेमाल के लिए ग़ैर ज़िम्मेदाराना परमाणु धमकी दे रहा है। संयुक्त राज्य अमरीका महत्वपूर्ण हथियार नियंत्रण उपायों को आगे बढ़ाने के लिए तैयार है।

राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि युद्ध यूक्रेन के एक राज्य के रूप में अस्तित्व के अधिकार को खत्म करने के बारे में है, आप की तरह अमरीका चाहता है कि यह युद्ध उचित शर्तों पर समाप्त हो, खासतौर पर जिन शर्तों पर हम सभी ने हस्ताक्षर किये हैं, वह यह है कि आप किसी देश के क्षेत्र पर बलपूर्वक क़ब्ज़ा नहीं कर सकते हैं, इसके रास्ते में केवल एक देश रूस है.

अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन यूक्रेन पर रूसी हमले और जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के कारण होने वाली कमी को दूर करने के लिए वैश्विक खाद्य सुरक्षा की खातिर 2.9 अरब डॉलर की सहायता घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.