महाराष्ट्र राज्य

आतंकवादी वारदातों की आरोपी, बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने जिस गांव को गोद लिया है, उसकी बेटियों को बेचा जा रहा है!

भोपाल से लोकसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी की कट्टर नेता साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने अपनी ही पार्टी की सरकार की आलोचना की है।

उन्होंने कहा है कि अवैध शराब के धंधे में लिप्त अपने रिश्तेदारों को पुलिस हिरासत से छुड़ाने के लिए माता-पिता अपनी बेटियों को बेच रहे हैं।

प्रज्ञा ठाकुर ने 17 सितम्बर को भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के एक समारोह में कहा कि उन्होंने तीन गांव गोद लिए हैं, वे इन गांवों की ग़रीब बच्चियों की पढ़ाई-लिखाई में मदद करती हैं।

उन्होंने आगे कहा कि इन गांवों में लोग गरीब हैं और कच्ची शराब बनाकर बेचते हैं, इसके चलते पुलिस उन्हें पकड़कर ले जाती है तो वे अपनी बच्चियों को बेचकर पुलिस को पैसे देते हैं और अपने लोगों को छुड़ाते हैं।

उन्होंने इन गावों की बस्तियों में बच्चों की संख्या 250-300 बताई और कहा कि यहां के लोगों के पास खाने तक के पैसे नहीं हैं।

प्रज्ञा ठाकुर की टिप्पणियों का एक वीडियो सामने आने के बाद मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष कांग्रेस नेता गोविंद सिंह ने कहा कि यह चौंकाने वाला और चिंता का विषय है कि राज्य की राजधानी में अवैध शराब का कारोबार फल-फूल रहा है।

कांग्रेस प्रवक्ता और राज्य महिला आयोग की सदस्य संगीता शर्मा ने कहा कि यह मध्यप्रदेश का दुर्भाग्य है कि एक सांसद बयान देकर यह बता रही हैं, यह बहुत दुखद और निंदनीय है।

संगीता शर्मा ने कहा कि 18 वर्षों से शिवराज सिंह सरकार ‘बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ’ के बड़े-बड़े दावे कर रही है और राजधानी भोपाल में यह हालात हैं, यह साफ़ साबित करता है कि मध्यप्रदेश में जो बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं, वे झूठे हैं।

कांग्रेस ने राज्यपाल मंगू भाई पटेल से शिवराज सरकार को बर्खास्त कर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.