देश

बेगूसराय गोलीकांड मामले में पुलिस ने सुमित, नागा, युवराज, अर्जुन को दबोचा : रिपोर्ट

बेगूसराय गोलीकांड के 2 दिन बाद पुलिस ने चार आरोपियों को पकड़ने का दावा किया है। पकड़े गए आरोपियो में केशव को झारखंड से गिरफ्तार किया है। अन्य 3 संदिग्ध सुमित, अर्जुरन व युवराज को पुलिस ने हिरासत में लिया है। आपकों बता दें कि बेगूसराय में एनएच व अन्य जगहों पर अंधाधुंध गोलिया चलाई गई थी। जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी बाकि 10 लोग जख्मी हो गए थे। सुत्रों के अनुसार सभी आरोपियों से पूछताछ जारी है। वहीं गिरफ्तारी के बाद SP योगेंद्र कुमार ने कहा कि आज शुक्रवार को दोपहर ढाई बजे मामले को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस होगा। जिसके बाद कई चौकाने वाले मामले सामने आएंगे।

आपकों बता दें कि सुमित का अपराधिक इतिहास रहा है। सुमित अपना एक गिरोह भी चलता है जिसमें कई लड़के काम करते है। वहीं इस गिरफ्तारी के बाद लोग व पकड़े गए आरोपियों में से केशव के माता-पिता व किसान अनशन पर बैठे है। केशव के मात-पिता नह कहा कि यदि मेरा गोलीकांड मामले में दोषी है तो उसे तुरंत फांसी दी जाए। थानाध्यक्ष अपनी नाकामी छुपाने के लिए हमारे दोनों बेटों को गिरफ्तार किया है।


आपकों बता दें कि इस मामले को लेकर पिछले दो दिनों से पुलिस की काफी फजिहत हो रही थी। नेताओं को दौरा भी जिले में शुरू हो गया था। एसपी ने कहा कि आज शुक्रवार को 2 : 30 में इस मामले का खुलासा किया जाएगा। कई चौकाने वाले मामले सामने आएंगे।

ANI_HindiNews
@AHindinews

बेगूसराय में फायरिंग की घटना के बाद CCTV के आधार पर युवराज नामक अभियुक्त की पहचान हुई थी, जिसे गिरफ़्तार किया गया। पूछताछ में युवराज ने घटना स्वीकारी और बताया कि इसके पीछे जो व्यक्ति बैठा था वो सुमित था। इसके बाद सुमित की गिरफ़्तारी की गई: योगेंद्र कुमार, एसपी, बेगूसराय(

ANI_HindiNews
@AHindinews
पूछताछ में इन्होंने दूसरी मोटरसाइकिल पर सवार 2 लोगों के बारे में बताया। जिसपर हमारी विशेष टीम काम कर रही है। पूछताछ में इन्होंने बताया कि घटना में 2 अन्य लोग भी शामिल थे, जो इनके साथ फोन पर संपर्क में थे। इन दोनों को भी गिरफ़्तार कर लिया है: योगेंद्र कुमार, एसपी, बेगूसराय

ANI_HindiNews
@AHindinews
बेगूसराय में फायरिंग की घटना में बेगूसराय पुलिस ने विभिन्न टीमों के सहयोग से 4 अभियुक्तों को गिरफ़्तार किया है। घटना में इस्तेमाल 2 पिस्तौल और 5 कारतूस बरामद किए हैं। घटना में इस्तेमाल मोटरसाइकिल और 4 मोबाइल फोन भी ज़ब्त किए गए हैं: जे.एस. गंगवार, एडीजी, मुख्यालय पटना, बिहार

ANI_HindiNews
@AHindinews

बेगूसराय की घटना में महज 10 लोगों पर गोलियां नहीं चलाई गई बल्कि उसमें सरकार के चेहरे बेनकाब हो गए। बेगूसराय में महज 10 लोगों पर गोली नहीं चलाई गई थी बल्कि वो एक आतंकी हमला था। इसकी जांच NIA या CBI से कराई जाए: बेगूसराय की घटना पर केंद्रीय मंत्री गिरीराज सिंह, पटना, बिहार

Saddam Pradhan
@SADDAM_INC

बेगुसराय गोली कांड के दोषी गिरफ्तार चारों के चारों भूमिहार हैं जिनका नाम केशव युवराज अर्जुन और सुमित है ।

अगर यादव होता तो अभी तक जंगलराज और मुस्लिम रहता तो आतंकवादी घोषित हो गया होता साथ में गोदी मीडिया के दलाल कपड़े उतारकर नाच रहे होते।

Priyanshu Kushwaha
@PriyanshuVoice

महागठबंधन की नवगठित सरकार को बदनाम करने की साज़िश रचने वाले बेगुसराय सांसद को गिरफ्तार कीजिए। गोली कांड के आरोपी सुमित सिंह, युवराज तिवारी, नागा सिंह, अर्जुन पांडे से इनका सीधा कनेक्शन है।
बिहार सरकार आप साबित कीजिए ये कार्रवाई और सुनवाई वाली सुशासन की सरकार है।
#Arrest_Gidhraj

Baat Bihar Ki
@BaatBiharKii
·
बेगुसराय में हुए गोलीबारी कांड में 11 लोगों को गोली लगी, जिसमें एक की मौत हो गयी। अपराधी 30 किलोमीटर तक गोलियां चलाते रहे और इस बीच न कोई पुलिस थी न कोई पुलिस वैन, जो इस घटना को रोक पाती। देखिये बेगुसराय के बछवारा थाने का हाल, शायद इसीलिए अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं।

Bittu Kumar Yadav
@VibhutiRanjan02
News 18 बिहार समेत तमाम मीडिया के अनुसार बेगूसराय कांड के गिरफ्तार चारो आरोपी (सुमित,नागा,युवराज,अर्जुन) का कोई टाइटल ही नही है।

“यादव और अंसारी” खोजकर निकालो बे किसी भी angel से 😒😒

बेगूसराय गोली कांड का आरोपी सुमित सिंह, युवराज तिवारी, नागा सिंह, अर्जुन पांडे गिरफ्तार।

Leave a Reply

Your email address will not be published.