दुनिया

मीट खाने वाले लोगों के सेक्स करने पर प्रतिबंध लगाना चाहिए, महिलाओं सेक्स हड़ताल पर चली जायें : राइट ग्रुप्स की मांग

बर्लिन : नॉनवेज खाने वालों और एनिमल राइट ग्रुप्स के बीच लंबे समय से एक बहस चल रही है। पशुओं को बचाने की मांग करने वाले समूह शाकाहार या वीगन को बढ़ावा देने की बात कहते हैं। लेकिन अब मांग उठ रही है कि मीट खाने वाले लोगों के सेक्स करने पर प्रतिबंध लगा देना चाहिए। पशु अधिकार समूह PETA ने यह मांग उठाई है। संगठन की जर्मन इकाई ने दावा किया है कि मीट का सेवन करना ‘विषैले पुरुषत्व’ (Toxic Masculinity) का एक लक्षण है। पेटा ने महिलाओं से ‘दुनिया को बचाने’ के लिए सेक्स हड़ताल पर जाने का आग्रह किया है।

सोशल मीडिया यूजर्स पेटा के इस सुझाव के विरोध में नजर आए और लोगों ने ‘सेक्स स्ट्राइक’ के आइडिया को खारिज कर दिया। पेटा ने कहा कि साइंटिफिक रिसर्च से पता चला है कि पुरुष महिलाओं की तुलना में 41 फीसदी अधिक ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन करते हैं और उन्हें इसके परिणाम भुगतने चाहिए। पेटा जर्मनी के कैंपेन टीम के लीडर डैनियल कॉक्स ने कहा कि हम सब उन्हें (मीट खाने वाले पुरुष) जानते हैं, वे बियर की बोतलों और बारबेक्यू के साथ अपने ग्रिल पर सॉसेज भूनते हैं।

वीगनस्टार्ट प्रोग्राम में शामिल होने की अपील
उन्होंने आगे कहा कि अब इस बात के भी वैज्ञानिक सबूत हैं कि ‘विषैला पुरुषत्व’ भी जलवायु को नुकसान पहुंचाता है इसलिए पुरुषों के लिए 41 फीसदी का मीट टैक्स उपयुक्त होगा। मीट खाने वाले पुरुषों के लिए सेक्स पर बैन ठीक रहेगा। पेटा ने एक बयान में मांस खाने वालों को अपने वीगनस्टार्ट प्रोग्राम में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित किया। समूह ने कहा, ‘मीट खाने वाले पिता जो अभी भी एक जीवित ग्रह पर रहने योग्य एक भविष्य के साथ बच्चों की कामना करते हैं, उन्हें हमारी सलाह है कि आप हमारे मुफ्त वीगनस्टार्ट प्रोग्राम में शामिल होकर अपना लाइफस्टाइल बदलें।’

जलवायु संकट कम करने के लिए मांस खपत का घटना जरूरी
संयुक्त राष्ट्र भी सरकारों से जनता को कम मांस खाने के लिए प्रोत्साहित करने की अपील कर चुका है। पेटा की तरफ से ‘सेक्स स्ट्राइक’ का सुझाव फ्रांस के एक प्रमुख सांसद सैंड्रिन रूसो की टिप्पणियों के बाद आया है जिन्होंने कहा था कि आउटडोर ग्रिल का इस्तेमाल पौरुष, महिलाओं पर शक्ति और पुरुष की मांस खाने की आदत को दिखाता है। उन्होंने कहा कि अगर आप जलवायु संकट को हल करना चाहते हैं तो आपको मांस की खपत को कम करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.