उत्तर प्रदेश राज्य

शाहजहांपुर : पीड़िता का आरोप थाने में शिकायत लेकर गयी तो गालिया देकर कोतवाल ने भगाया!!वीडियो!! : पत्रकार रुख्सार की रिपोर्ट

 

Rukhsar Journelist
=========
·
योगी सरकार में महिला सुरक्षा के दावों को पुवायां कोतबाल लगा रहे पलीता।
पीड़िता का आरोप थाने में शिकायत लेकर गयी तो गालिया देकर कोतवाल ने भगाया।


शाहजहांपुर:- पुवायां क्षेत्र का एक एैसा मामला सामने आया हैं। जहाँ पीडिता को ही पुलिसिया रैवया दिखाकर भगा कर थाने से दिया गया यह रवैया किसी और ने नही बल्कि खुद कोतवाल दिखा रहे थे आपको बता दें। जहाँ एक तरफ बुल्डोजर बाबा महिला सुरक्षा के बडे़ बडे़ दावों कि बात कर रहे हैं। वही बुल्डोजर बाबा की पुलिस ने एक विधवा महिला को गालिया देकर थाने से भगा दिया। कोतवाल के इस रवैये से यह तो साफ कर दिया भले ही योगी राज्य में महिलाओं को मान सम्मान दिया जा रहा हो परन्तु कोतवाल साहब के घर में नारी सम्मान जैसी किसी भी बात को अहमिनत नही दी जाती होगी। दरअसल पुरा मामला नाहील रोड़ की रहने वाली परमजीत कौर ने अपने दिये प्रार्थना पत्र के माध्यम से पुवाया कोतवाल से अपने साथ हुई घटना को अवगत कराते हुये न्याय कि आस में गयी और जिसमें लिखा था विगत दिन पूर्व रात्रि करीब गयारह बजे उसका सौतेला बेटा व देवर व एक अज्ञात युवक के साथ उसके घर आया और पीड़िता से हाथापाई करने लगे जब पीडिता ने अपने बचाव में मोबाईल से पुलिस को सूचना देने का प्रयास किया तो दबंगों ने पहले तो पीड़िता का मोबाईल जबरन छीन लिया और उसके बाद घर मे रखी हजारों की नकदी भी लूट ली। जिसकी शिकायत कोतवाल के देने के बाद भी जब कार्यवाही नही हुई तो पीडिता ने तहसील दिवस में उच्चाधिकारियों से मदद की गुहार लगाई लेकिन को सिर्फ आश्वासन के सिवा न्याय नही मिला। कुछ बक्त गुजरने के बाद पीड़ित अपने दिया प्रार्थना पत्र के कार्यवाही के संबंध में जानकारी लेने गयी तो कोतवाल साहब इतना भड़क गये कि उन्होंने योगी बाब के महिला सुरक्षा के दावों को जुम्ला साबित करने का मन बना लिया फिर क्या साहब ने पीड़िता को अपत्तिजनक शब्दों संबोधन करते हुये थाने से भगा दिया। परन्तु पीड़िता कि प्राथमिकी अभी तक दर्ज नही हुई।

पीड़िता का यह आरोप भी है की पुवाया पुलिस ने आरोपियों से सांठगांठ कर उसकी हत्त्या करा सकती है या पीड़िता के मकान पे कब्जा भी करा सकती है। फिल्हाल पीड़िता के मुताबिक पीड़ित ने आलाधिकारियों को प्रार्थना पर देकर पुलिस व आरोपीयो के विरूद्ध कार्यबाही की मांग की है। अब देखना यह होगा। योगी बाबा की सरकार के हकीकत में महिलाओं का सम्मान है। यह सिर्फ जुम्ला साबित होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.