देश

#chandigarhuniversity के गर्ल्स हॉस्टल में कई छात्राओं के नहाते समय के वीडियो बनाने के मामले की जांच में कई राज़ हुए फ़ाश!

मोहाली स्थित चंदीगढ़ यूनिवर्सिटी के गर्ल्स हॉस्टल में कई छात्राओं के नहाते समय के वीडियो बनाने के मामले की जांच में धीरे-धीरे अब कई राज़ों से पर्दा उठने लगा है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, हिमाचल के रोहड़ू से पकड़े गए संदिग्ध सनी ने छात्रा को ब्लैक मेल करते हुए इस तरह के वीडियोज़ बनाने के लिए कहा था।

आरोपी सनी और उसके दोस्तों ने छात्रा को धमकी दी थी कि अगर उसने दूसरी छात्राओं के वीडियो बनाकर उन्हें नहीं भेजे तो वे उसका वह वीडियो वायरल कर देंगे, जो उसने पहले उन्हें भेजा था।

वीडियो वायरल न करने के बदले लड़की पर हॉस्टल की दूसरी छात्राओं का अश्लील वीडियो भेजने का दबाव बनाया गया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार यह भी आशंका जताई जा रही है कि इन वीडियोज़ को आगे कहीं बेचा गया होगा। इस मामले के तार गुजरात और मुंबई से भी जुड़ते जा रहे हैं।\

हालांकि इस मामले में पुलिस बार-बार बयान बदल रही है। एफ़आइआर में पुलिस ने 6 छात्राओं के अश्लील वीडियो बनने की बात लिखी है। रविवार को मोहाली के एसएसपी विवेक सिंह सोनी ने एक वीडियो की बात कही थी, जो कि पकड़ी गई लड़की का ही था। वहीं, सोमवार को अदालत में पुलिस ने बयान दिया कि दो अश्लील वीडियो बनाए गए हैं।

पंजाब पुलिस ने चंदीगढ़ यूनिवर्सिटी से वायरल हुए वीडियो केस में तीन सदस्यों की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम का गठन किया है।

शनिवार रात को इस घटना के सामने आने के बाद से पंजाब के मोहाली शहर में माहौल तनावपूर्ण था। वहीं स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम के गठन के बाद विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने रविवार देर रात धरना ख़त्म ख़त्म कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.