प बंगाल राज्य

West Bengal : बंगाल सरकार लाएगी सीबीआई और ईडी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव

TMC ने कहा कि केंद्रीय जांच एजेंसियों के अत्यधिक इस्तेमाल के खिलाफ विधानसभा में निंदा प्रस्ताव लाया जा रहा है। सीबीआइ, ईडी, आयकर विभाग जैसी जांच एजेंसियों का इस्तेमाल केंद्र सरकार राजनीतिक फायदे के लिए कर रही है।

 

बंगाल की तृणमूल कांग्रेस की ममता सरकार केंद्रीय जांच एजेंसियों की कार्रवाई के खिलाफ बंगाल विधानसभा में निंदा प्रस्ताव लाएगी। सोमवार को संसदीय कार्य मंत्री शोभनदेव चटर्जी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 19 सितंबर को विधानसभा में यह प्रस्ताव लाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि केंद्रीय जांच एजेंसियों के अत्यधिक इस्तेमाल के खिलाफ विधानसभा में निंदा प्रस्ताव लाया जा रहा है। सीबीआइ, ईडी, आयकर विभाग जैसी जांच एजेंसियों का इस्तेमाल केंद्र सरकार राजनीतिक फायदे के लिए कर रही है।

उन्होंने यह भी कहा कि हाल ही में देखा गया है कि चुनाव आयोग का विभिन्न विपक्षी राजनीतिक दलों के साथ-साथ विपक्षी सरकारों के खिलाफ भी इस्तामाल करना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा, चुनाव आयोग का इस्तेमाल कर जहां विपक्षी सरकार है उसे भी गिराने की कोशिश की जा रही है। बंगाल सरकार इसके खिलाफ विधानसभा में निंदा प्रस्ताव लाने जा रही है।

ममता बोलीं- एजेंसियां कर रही हैं शासन
इस बीच पश्चिम बंगाल में पिछले कुछ दिनों से जारी ताबड़तोड़ सीबीआई और ईडी के छापों से एक बार फिर से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भड़क गई हैं। सोमवार को नेताजी इंडोर स्टोडियम में आयोजित कार्यक्रम के में ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर जोरदार हमला बोला। ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य कृषि के मामले में नंबर वन है और अब उद्योग के क्षेत्र में विकास के लिए कदम उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र में बैठी भाजपा की सरकार विकास नहीं चाहती है और केवल एजेंसी राज चल रहा है।

आने वाले दिन लाखों को मिलेगा रोगजार
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि 200 से अधिक औद्योगिक पार्क तैयार किए जा रहे हैं। आईटी में 2800 कंपनी काम कर रही है। सिलिकॉन वैली बन रहा है। आने वाले दिनों में लाखों युवाओं को रोगजार मिलेगा। बर्दवान, मुर्शिदाबाद और बांकुड़ा के लोगों को लाभ मिलेगा। डानकुनी कॉरिडोर से भी लोगो को लाभ मिलेगा। रघुनाथपुर में भी 72 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट बन रहा है। घर पर ही सबको रोजगार मिलेगा। बंगाल उद्योग मित्रवत है। 24 घंटे के लिए व्हाट्सएप नंबर जारी किया गया है, जिस उद्योगपति को जो समस्या होगी। उस पर बता सकते हैं। कृषि के बाद अब राज्य सरकार का लक्ष्य उद्योग विकास करना है। दुर्गा पूजा में बंगाल में 40 हजार करोड़ का कारोबार होता है। जूट के काम से लेकर ढाक बजाने का काम ग्रामीण बंगाल से किया जाता है। बंगाल में लघु कुटीर उद्योग 90 लाख यूनिट है। एक करोड़ 36 लाख काम करते हैं। चमड़ा उद्योग में 5 लाख लोग काम कर रहे हैं।

सम्मान लेने ममता जा सकती हैं बर्लिन
पश्चिम बंगाल को संयुक्त राष्ट्र संघ की ओर से वेस्ट डेस्टिनेशन फॉर कल्चर ट्रेवल अवार्ड देने का एलान किया गया है। सीएम ममता बनर्जी ने 9 मार्च, 2023 को बर्लिन में होने वाले समारोह में खुद पुरस्कार लेने जा सकती है। सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि मुझे यह घोषणा करते हुए गर्व हो रहा है कि पैसिफिक एरिया ट्रैवल राइटर्स एसोसिएशन, यूएन वर्ल्ड टूरिज्म ऑर्गनाइजेशन का एक सहयोगी, पश्चिम बंगाल को बेस्ट डेस्टिनेशन फॉर कल्चर के लिए इंटरनेशनल ट्रैवल अवार्ड 2023 से सम्मानित करेगा। हो सकता है मैं खुद इस पुरस्कार को लेने जाऊं।

भाजपा ने टीएमसी को घेरा
भाजपा को नबन्ना मार्च की अनुमति नहीं मिलने पर बंगाल भाजपा अध्यक्ष एस मजूमदार ने कहा कि जनता चोरों से प्रदर्शन करने की अनुमति क्यों लेगी? पुलिस टीएमसी कैडरों की तरह व्यवहार कर रही है। हमने पिछली बार नबन्ना मार्च किया था, जब धारा 144 लगाई गई थी, हम फिर से करेंगे। बंगाल को बचाने के लिए यह हमारी लड़ाई है। भाजपा विधायक अग्निमित्र पॉल ने कहा कि भाजपा कल होने वाले नबन्ना चलो (राज्य सचिवालय) अभियान की तैयारी कर रही है। यह भाजपा का विरोध नहीं है, बल्कि बंगाल के सभी लोगों का विरोध है। ममता बनर्जी को जवाब देना होगा कि उनकी सरकार ने बंगाल के लोगों को धोखा क्यों दिया?