दुनिया

अमरीका के मुक़ाबले में डटे रहने के कारण उत्तरी कोरिया के नेता किम जोंग ऊन ने पुतीन की प्रशंसा की

उत्तरी कोरिया के नेता ने कड़े प्रतिरोध के कारण पुतीन की प्रशंसा की है।

अमरीका के मुक़ाबले में डटे रहने के कारण उत्तरी कोरिया के नेता किम जोंग ऊन ने रूस के राष्ट्रपति विलादिमीर पुतीन की सराहना की है।

उत्तरी कोरिया की सरकारी समाचार एजेन्सी KCNA के अनुसार इस देश के नेता ने कहा कि वर्तमान समय में रूस, पूरी शक्ति के साथ अमरीका और उसके पिट्ठुओं के सामने पूरी दृढ़ता के साथ खड़ा है जो सराहनीय काम है।

किम जोंग ऊन ने कहा कि इस प्रकार की वास्तविकता, दृढ़ इच्छा शक्ति और असाधारण नेतृत्व के बिना संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि विलादिमीर पुतीन के नेतृत्व में रूस अधिक सशक्त हुआ है। उत्तरी कोरिया के नेता किम जोंग ऊन ने रूसी राष्ट्रपति विलादिमीर पुतीन को एक पत्र भेजा है। इस पत्र में उन्होंने द्विपक्षीय संबन्धों को अधिक मज़बूत बनाने पर बल दिया है।

इसी बीच उत्तरी कोरिया के विदेश मंत्रालय में अन्तर्राष्ट्रीय संगठनों के मामले के प्रभारी जू चूल सू ने कहा कि हम उन सारे लोगों का सम्मान करते हैं जो रुस में विलय के इच्छुक हैं। उन्होंने कहा कि रूस द्वारा कुछ क्षेत्रों को अपने भीतर विलय के फैसले का हम समर्थन करते हैं।

रूस की संसद ड्यूमा में दोनेत्स्क, लूहानस्क, ख़रसून और ज़ापूरीज़िया के रुस में विलय का प्रस्ताव पारित होने के बाद रूसी राष्ट्रपति विलादिमीर पुतीन ने इनके विलय के प्रस्ताव पर हस्ताक्षर कर दिये हैं।