विशेष

800 वर्षों से आइसलैंड शहर के नीचे बह रही थी यह अनोखी नदी, वैज्ञानिक भी हैरान

आइसलैंड में ज्वालामुखी विस्फोट के बाद एक ऐसी नदी का पता चला है जिसमें 800 वर्षों से लावा का प्रवाह हो रहा है। इस नदी को देखकर वैज्ञानिक भी हतप्रभ हैं।

वैज्ञानिकों ने आइसलैंड में मछली पकड़ने वाले गांव ग्रिंडाविक के नीचे मैग्मा की एक असाधारण नदी बहने की सूचना दी है।

यह गुरुवार की सुबह हुए ज्वालामुखी के विस्फोट के तुरंत बाद पता चला है जो इस साल इस क्षेत्र में दूसरी बार ज्वालामुखी फटने की घटना है। पिछले साल के अंत में होने वाले मैग्मा प्रवाह की दर ने इस तरह से एक नया रिकॉर्ड बनाया है और अधिकारियों को आपातकाल की स्थिति घोषित करने के लिए प्रेरित किया है।

पश्चिमी रेक्जेन्स प्रायद्वीप बिना किसी विस्फोट के 800 वर्षों से सोया हुआ था पर अब एक नाटकीय रूप से ज्वालामुखी के फटने की घटना से चर्चा में है।

जर्नल साइंस में एक महत्वपूर्ण अध्ययन प्रकाशित होने से कुछ ही घंटे पहले उभरी नवीनतम दरार ने गांव को खाली करा दिया है और क्षेत्र के भविष्य के बारे में चिंताएं बढ़ा दी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *