देश

Video:पाकिस्तान में सिध्दू का जमकर हुआ स्वागत,इमरान खान ने देखिए क्या कहा इस बारे में ?

नई दिल्ली। नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान जाने को लेकर भारत में जमकर बवाल मचा हुआ है, इसी बीच पाकिस्तान से एक और बड़ी खबर आई है,मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पीटीआई के एक सिनेटर ने सिद्धू को पाकिस्तान में चुनाव लड़ने का ऑफर दिया है। ये वाकया तब हुआ जब एक पाकिस्तानी न्यूज चैनल नवजोत सिंह सिद्धू से उनके पाक यात्रा पर प्रतिक्रिया ले रहा था।

दरअसल क्रिकेटर से राजनेता बने नवजोत सिंह सिद्धू, प्रधानमंत्री के रूप में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के प्रमुख इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने शुक्रवार को पाकिस्तान पहुंच गए। सिद्धू वाघा सीमा के जरिए लाहौर पहुंचे और शनिवार को शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए।

कार्यक्रम स्थल पर सिद्धू ने पीटीआई नेताओं से लंबी बातचीत भी की। इसी दौरान पाकिस्तान के सेना के चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा से सिद्धू गले भी मिले, जिसे लेकर भारत में राजनीति गरम है।

पाकिस्तान से ही चुनाव लड़ लें सिद्धू साहब: फैसल जावेद

इमरान खान के शपथ ग्रहण के बाद सिद्धू पाकिस्तानी मीडिया से भी रूबरु हुए। इसी दौरान पीटीआई के सिनेटर फैसल जावेद ने कहा कि इतना कमाल है कि अब हम सोच रहे हैं कि सिद्धू साहब यहीं से चुनाव लड़ जाएं।

ये इतने फेसम हैं, इनकी मोहब्बत है। हर मसला टेबल पर बैठकर हल कर लेंगे। सिद्धू भाई का जो पैगाम है, वे बहुत पॉजिटिव है।

सरहद पार कर बदले सिद्धू के सुर

पाकिस्तान में सिद्धू ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी किया। भारत रवाना होने से पहले नवजोत सिंह सिद्दू ने कहा कि मैं मोहब्बत का एक पैगाम हिन्दूस्तान से लाया था।

जितनी मोहब्बत मैं लेकर आया था, उससे 100 गुणा ज्यादा मोहब्बत मैं वापस लेकर जा रहा हूं। जो वापस आया है, वो सूद समेत आया है।

मीडिया से बात करते हुए सिद्धू ने कहा कि ये हमारी ड्यूटी है कि हम वापस जाने के बाद अपने सरकार से कहे कि वो पाकिस्तान की ओर दोस्ती का एक कदम बढाए।

मैं आशा करता हूं कि भारत सरकार के एक कदम पर पाकिस्तान की ओर से दो कदम बढ़ाए जाएंगे। जनरल बाजवा ने आज मुझसे गले मिलते हुए कहा कि हम शांति चाहते है। इसलिए हमे नीले समंदर में तैरना चाहिए न कि खून से रंगे लाल समंदर में।

इमरान बदलेंगे पाक की किस्मत: सिद्धू

वहीं पाकिस्तान के राष्ट्रीय चैनल ‘पीटीवी’ से बातचीत में सिद्धू ने इमरान की प्रशंसा की और कहा कि पाकिस्तान में नई सरकार के साथ एक नई सुबह हुई है।

यह सरकार इस देश की किस्मत बदल सकती है। उन्होंने उम्मीद जताई कि दोनों पड़ोसी देशों के बीच शांति प्रक्रिया में इमरान की जीत से लाभ होगा।